spot_img

सरकार का जवाब हैरत में डालने वाला, देश में ऑक्सीजन की कमी से एक भी मौत नहीं हुई

Must Read

acn18.com/नई दिल्ली: क्या कोरोना की दूसरी लहर के दौरान बहुत सारे कोविड मरीज़ ऑक्सीजन की कमी की वजह से दम तोड़ गए? कांग्रेस सांसद वेणुगोपाल के इस सवाल का राज्यसभा में जो लिखित जवाब स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने दिया, वह हैरान करने वाला है. कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन संकट की वजह से बड़ी तादाद में कोरोना मरीज़ों की मौतें हुई. लेकिन मंगलवार को ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों पर कांग्रेस सांसद केसी वेणुगोपाल द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में  स्वस्थ्य राज्यमंत्री डॉ भारती प्रवीण कुमार ने लिखित में दिए जवाब मैं कहा – स्वास्थ्य राज्य का विषय है. मौत की रिपोर्ट की विस्तृत जानकारी राज्य और केंद्रशासित प्रदेश स्वास्थ्य मंत्रालय को रेगुलर बेसिस पर मुहैया कराते हैं. राज्यों-केंद्रशासित प्रदेशों की रिपोर्ट के मुताबिक देश में ऑक्सीजन की कमी से एक भी मौत नहीं हुई है

- Advertisement -

स्वास्थ्य राज्यमंत्री के इस जवाब से विवाद खड़ा हो गया है. हालांकि कोरोना से हुई मौतों पर राज्यसभा में विपक्षी सांसदों के पूछे गए सवालों पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा – “मोदी जी ने कहा डेथ रजिस्टर कीजिए, छुपाइए मत. राज्य सरकार को ही मौतें रजिस्टर करनी होती हैं. यहां कहा गया कि भारत सरकार आंकड़े छुपा रही है. यह गलत है.”

 

उधर कांग्रेस ने स्वास्थ्य राज्य मंत्री के जवाब की तीखी आलोचना करते हुए कहा है कि सरकार अंधी और असंवेदनशील है. आम लोगों ने अपने करीबियों को ऑक्सीजन की कमी से मरते हुए देखा है. अब कांग्रेस सांसद केसी वेणुगोपाल ने इस मसले पर स्वास्थ्य राज्यमंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव लाने का फैसला किया है. उनका आरोप है कि स्वास्थ्य राज्यमंत्री ने संसद में गलतबयानी की है.

377FansLike
17FollowersFollow
377FansLike
17FollowersFollow
Latest News

राहुल गांधी की तस्वीर पर CG में सियासत:मूणत ने भी अपनी बारिश वाली फोटो जारी की, कांग्रेस बोली- ऐसे कोई राहुल नहीं हो जाएगा

acn18.com रायपुर/ बारिश में भीगते हुए राहुल गांधी की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल है। अब इसे लेकर कई...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -