spot_img

5 हजार से अधिक लड़कियों की खरीद-फरोख्त, 10 शादियां, 100 से अधिक प्रेमिकाओं वाला बांग्लादेशी इंदौर में गिरफ्तार

Must Read

acn18.com/मानव तस्करी और देह व्यापार के मामले में इंदौर पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। मुंबई के नाला सोपारा इलाके में रहने वाला विजय कुमार दत्त 25 साल पहले बांग्लादेश आया था। उसने इंदौर पुलिस के सामने कबूल किया है कि वह अब तक 5 हजार से अधिक लड़कियों की खरीद-फरोख्त कर चुका है। इन लड़कियों को बाद में देह व्यापार में लगाया गया। विजय दत्त इंदौर के बाणगंगा क्षेत्र में फरारी काट रहा था।

- Advertisement -

इंदौर पुलिस की विशेष जांच टीम ने बाणगंगा क्षेत्र की कालिंदी गोल्ड सिटी में उज्जवल ठाकुर के घर से विजय दत्त को उसके साथी बबलू के साथ पकड़ा है। विजय इंदौर को उज्जवल, बबलू और सैजल की मदद से देह व्यापार का हब बनाया चाहता था। इंदौर से फ्लाइट, बस और ट्रेन आसानी से मिलने के कारण लड़कियों की सप्लाई आसान हो जाती है। वह इंदौर से सूरत, राजस्थान और मुंबई समेत अन्य जगहों पर लड़कियों को सप्लाई करने के लिए एक चेन बनाने की फिराक में था।

इंदौर के पुलिस महानिरीक्षक हरिनारायणाचारी मिश्र ने कहा कि विजय कुमार दत्त ने कबूल किया है कि वह 25 साल पहले अवैध तरीके से भारत आकर मुंबई में बस गया था। फर्जी वोटर आईडी और आधार कार्ड बनवाया और फिर पासपोर्ट। वह पत्नी से मिलने के बहाने बांग्लादेश जाता और इसकी आड़ में लड़कियों की खरीद-फरोख्त करता था।

10 शादियां, 100 से अधिक प्रेमिकाएं
पुलिस को विजय दत्त ने बताया कि वह बांग्लादेश की शबाना व बख्तियार के माध्यम से गरीब घरों की लड़कियों को नौकरी के बहाने भारत लाता था। बाद में उन्हें देह व्यापार में धकेल देता था। बांग्लादेशी लड़कियों को वह मुंबई में नाला सोपारा और अन्य जगहों पर छिपाता था। विजय 10 युवतियों से शादी कर चुका है। उसकी 100 से ज्यादा प्रेमिकाएं है, जिनसे वह देह व्यापार करवाता है।

दलालों की चेन बना ली थी
पुलिस के मुताबिक विजय दत्त ने इंदौर, धार, अलीराजपुर, झाबुआ, सूरत, अहमदाबाद, जयपुर, बेंगलुरू सहित कई शहरों में दलालों की चेन बनाई थी। आईजी के मुताबिक पुलिस को विजय के पास से सैकड़ों लड़कियों की जानकारी मिली है। विजय ने इन्हें दलालों के माध्यम से विभिन्न शहरों में भेजा है। कई ऐसे वीडियो भी मिले हैं, जिसमें वह शराब की बोतल हाथ में लेकर लड़कियों के साथ नाच रहा है। पुलिस ने 4 युवतियों को हिरासत में लिया है जिसमें दो बांग्लादेशी है।

इंदौर में काट रहा था फरारी
एनआईए ने विजय दत्त के बारे में जानकारी मांगी थी। इससे पहले विजय नगर थाना पुलिस ने कई जगहों पर छापे मारे, पर कुछ हाथ नहीं लगा। मुंबई में जब दबिश पड़ी तो विजय दत्त इंदौर आ गया था। एसआईटी ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर कालिंदी गोल्ड से उज्जवल के घर से विजय दत्त को गिरफ्तार किया।

खेतों, नालों से करवाते हैं तस्करी
विजयनगर थाना पुलिस के मुताबिक पिछले साल अक्टूबर में एक बांग्लादेशी युवती ने कुछ लोगों की शिकायत की थी। उसने ही पुलिस को बताया था कि शबाना और बख्तियार ने जौशुर (बांग्लादेश) से खेतों-नालों को पार कर उसे भारतीय सीमा में धकेला। बाद में वह विजय के पास ले आए थे। जब भी वह बांग्लादेश लौटने की बात करती, उसे गोली मारने की धमकी देते थे।

 

Latest News
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -